फ्रैंक इस्लाम को उत्तर प्रदेश रत्न पुरूस्कार

भारतीय अमेरीकी बिजनैसमैन और समाजसेवी फ्रैंक इस्लाम को उत्तर प्रदेश रत्न पुरूस्कार से सम्मानित किया जाएगा। फ्रैंक इस्लाम को यह सम्मान उनकी उपलब्धियों और विदेश में  देश और प्रदेश का सम्मान बढ़ाने में उनके योगदान के लिए दिया जा रहा है।
फैंक इस्लाम का जन्म राज्य के आजमगढ़ जिले में हुआ था। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से पढ़ाई करने के बाद वो 1970 में अमेरिका चले गए और यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो से कंप्यूटर साइंस में ग्रेजुएशन और पी.जी. की डिग्री हासिल की। उन्होंने 1994 में सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी क्यूएसएस की स्थापना की थी जिसे वर्ष 2007 में बेच दिया। फैंक वर्तमान में एफ.आई. इंवेस्टमेन्ट ग्रुप के हेड हैं। यह कम्पनी 2007 में बनाई गई निजी निवेश कम्पनी है। बड़े निवेशकों में से एक हैं.फैंक ने इसके अलावा दो किताबें भी लिखी हैं।
 फ्रैंक इस्लाम को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का करीबी मित्र भी माना जाता है। ओबामा को वर्जीनिया राज्य से सबसे अधिक चंदा देने वालों में एक नाम फ्रैंक का भी रहा था।  फ्रैंक अमरीका में रहने वाले भारतीयों के बीच भी खासे चर्चित और प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं ।फ्रैंक की शोहरत अमरीका में जितनी है उतनी ही अपने शहर आजमगढ़ में भी है। अपने भारत आगमन पर वो कई निजी संस्थाओं को आर्थिक मदद भी उपलब्ध कराते हैं। इस्लाम ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में नए मैनेजमेंट स्कूल के लिए 20 लाख डॉलर दान किए।
चार जनवरी को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस के उदघाटन समारोह में शरीक होंगे। इसी मौके पर 63 वर्षीय फ्रैंक इस्लाम को यह पुरूस्कार मुख्यमंत्री के द्वारा दिया जाएगा। उप्र रत्न पुरस्कार की स्थापना राज्य से ताल्लुक रखने वाले अप्रवासी भारतीयों की विज्ञान, तकनीक, संस्कृति, मैडिकल, शिक्षा और समाजसेवा और वाणिज्य से संबधित उपलब्धियों और योगदान को सम्मानित करने के लिए हुई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *