अंतिम चरण की वोटिंग पर है सबकी निगाहें

उत्तर प्रदेश का सियासी दंगल धीरे-धीरे करके अपने अंतिम चरण पर पहुंच चुका है. बुधवार को सातवें चरण के तहत यूपी के 7 जिलों की 40 सीटों पर मतदान होने वाला है, जिसके चलते आज चुनाव प्रचार का शोर थम गया. आपको बता दें कि सातवें चरण में पूर्वी उत्तर प्रदेश के सात जिलों भदोही, चंदौली, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्जापुर, सोनभद्र और वाराणसी की 40 सीटों पर मतदान आठ मार्च को होगा. इस चरण में कुल 535 उम्मीदवार मैदान में हैं.

यूपी में थमा सातवें चरण का प्रचार, बुधवार को होगा 40 सीटों पर मतदान

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी सहित सात जिलों की 40 विधानसभा क्षेत्रों में सोमवार शाम चुनाव प्रचार थम गया. इस चरण के लिए सभी दलों के नेताओं ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.  इस चरण में सात जिलों की 40 सीटों पर मतदान होगा.

सातवें चरण में 1.41 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. इनमें 64.76 लाख महिला मतदाता शामिल हैं. सातवें चरण के लिए कुल 14,458 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. अंतिम चरण में तीन नक्सल प्रभावित जिले भी शामिल हैं जिसमें सोनभद्र, मिर्जापुर और चंदौली में सुरक्षाबलों को चौकस रहने को कहा गया है.

वाराणसी में चुनावी मैदान में हैं सबसे ज्यादा 127 उम्मीदवार

इस चरण में वाराणसी जिले में सबसे ज्यादा 127 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. वहीं 535 में से 136 निर्दलीय उम्मीदवार हैं. सबसे अधिक 24 उम्मीदवार वाराणसी कैंट सीट से मैदान में हैं जबकि सबसे कम छह प्रत्याशी केराकत सीट से हैं.

आपको बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव सानी साल 2012 में इन 40 सीटों में से 23 सीटें समाजवादी पार्टी के खाते में गई थीं. जबकि बहुजन समाज पार्टी को को पांच, भारतीय जनता पार्टी को चार, कांग्रेस को तीन और अन्य को पांच सीटें मिली थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *